Ad
Ad
19.4 C
London
Tuesday, July 16, 2024

यहां से होती है कुमाऊं में नशे के कैप्सूल की सप्लाई

रुद्रपुर। नशा तस्करों के खिलाफ पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने 18848 कैप्सूल के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया है जबकि एक मुख्य अभियुक्त पुलिस की गिरफ्त से फरार है। साथ ही पुलिस ने कुमांऊ में नशीले कैप्सूल की सप्लाई करने वाले मेडिकल का भी भांडाफोड़ किया है। जिसको अभियुक्त की श्रेणी में रखकर मुकदमा पंजीकृत कर दिया है।

बता दें पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि शहर में नशीले कैप्सूल का व्यापार जोरो शोरों से चल रहा है। जिसपर एसएसपी डॉ. मंजूनाथ टीसी के निर्देशन व एसपी सिटी मनेाज कत्याल के पर्यवेक्षण में विशेष अभियान चलाने को निर्देशित किया गया। जहां सीओ अभय कुमार सिंह, कोतवाल विक्रम राठौर के कुशल नेतृत्व में गत दिवस रम्पुरा चौकी इंचार्ज अनिल जोशी द्वारा चैकिंग अभियान चलाया गया। चैकिंग के दौरान रामपुर रोड पर दो युवक मोटरसाइकिल पर सवार दिखे। जिन्होंने बीच में एक पेटी रखी थी, जो पुलिस को देखकर भागने लगे। जिन्हें पुलिस ने तत्परता के साथ पकड़ लिया। उक्त युवकों की पहचान संदीप पुत्र लीलाधर निवासी रम्पुरा व कल्लू पुत्र कन्हई लाल निवासी रम्पुरा के रुप में हुई। जिन्होंने पूछताछ में बताया कि उन्हें अयोध्या प्रसाद पुत्र अमृत लाल निवासी रम्पुरा ने 34 हजार रुपये देकर बहेड़ी के शुभम मेडिकल स्टोर पर भेजा था, जहां से यह नशीले इंजेक्शन व कैप्सूल लेकर आते हैं। पुलिस ने अयोध्या प्रसाद द्वारा दी गई घटना में प्रयुक्त वाहन यूके 06 एआर 1292 को भी कब्जे में लिया है। गिरफ्तार अभियुक्तों के पास 5 डिब्बे प्येवोन स्पास प्लस के 1192 कैप्सूल, एल्प्राजोलम टेबलेट के 5 डिब्बे में कुल 3000 टेबलेट, स्पास ट्रांसन प्लस के 99 डिब्बो में 14256 नशीले कैप्सूल कुल 18448 कैप्सूल बरामद किये। मौके पर मौजूद ड्रग इंस्पेटकर सुधीर कुमार द्वारा दवाईयों को चैक कर बताया गया कि उक्त दवाईयां प्रतिबंधित हैं, जिनके कोई दस्तावेज उपलब्ध नहीं हो पाये। जिसपर पुलिस ने माल को बरामद को उक्त दोनों युवकों को गिरफ्तार कर संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया, जिन्हें न्यायालय में पेश किया जा रहा है। मामले का खुलासा करते हुए एसएसपी डॉ. मंजूनाथ टीसी ने बताया कि चैकिंग के दौरान दो लोगों को 18448 नशीले कैप्सूल के साथ गिरफ्तार किया है। जिनमें मुख्य अभियुक्त अयोध्या प्रसाद की भूमिका पाई गई है। जिसका नाम अभियुक्तों की श्रेणी में रखा गया है। वहीं कुमांऊ में नशीले कैप्सूल सप्लाई करने वाले शिवम मेडिकल स्टोर बहेड़ी पर भी कार्यवाही का आदेश दिया गया है। अभियुक्त अयोध्या प्रसाद की बिजली की दुकान है, जहां से वह निरंतर नशीले कैप्सूल व इंजेक्शन बेचा करता है। अयोध्या प्रसाद पूर्व में शराब का काम करता था, जिसकी संपत्ति की जांच की जा रहा है। जिसके बाद उक्त अयोध्या प्रसाद पर संपत्ति जब्तीकरण व उसके बाद संपत्ति ध्वस्तिकरण की कार्यवाही की जायेगी।

बेहतरीन कार्यवाही करने वाली पुलिस टीम को एसएसपी ने पांच हजार का नगद पुरुस्कार देने की घोषणा की है, वहीं डीआईजी से भी पुरुस्कार के लिए अनुमोदन किया है।

कार्यवाही करने वाली पुलिस टीम में कोतवाल विक्रम राठौर, ड्रग इंस्पेक्टर सुधीर कुमार, रम्पुरा चौकी इंचार्ज अनिल जोशी, एसआई अनुराग सिंह, एसआई जितेन्द्र कुमार, कांस्टेबल अमित जोशी, कांस्टेबल महेन्द्र सिंह, कांस्टेबल ध्यान सिंह शामिल रहे।

 

 

spot_img
spot_img
Manish Kashyap
Manish Kashyap
हमारा उद्देश्य देश, प्रदेश की हर ताजा खबर सत्यता के साथ सबसे तेज सबसे पहले आप तक पहुंचाना है।
Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here