Ad
Ad
20.1 C
London
Tuesday, July 16, 2024

अगले 48 घंटे में छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की चेतावनी, मौसम विभाग का अलर्ट

रायपुर. मौसम विज्ञान केन्द्र लालपुर रायपुर के मौसम वैज्ञनिक ने आगामी 48 घंटों के लिए प्रदेश के विभिन्न संभागों में वर्षा संबंधी चेतावनी जारी की है। प्रदेश के सरगुजा तथा बिलासपुर संभाग के एक दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ भारी से अतिभारी वर्षा तथा वज्रपात होने की संभावना व्यक्त की है। इसी तरह से रायपुर और दुर्ग संभागों में एक दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ भारी वर्षा एवं वज्रपात होने की संभावना व्यक्त की गई है।

राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक जून 2022 से अब तक राज्य में 179.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज चार जुलाई तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिलें में सर्वाधिक 280.9 मिमी और बलरामपुर जिले में सबसे कम 105.3 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।
राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सरगुजा में 110.4 मिमी, सूरजपुर में 162.2 मिमी, जशपुर में 108.3 मिमी, कोरिया में 186.4 मिमी, रायपुर में 108.3 मिमी, बलौदाबाजार में 185.6 मिमी, गरियाबंद में 220.0 मिमी, महासमुंद में 171.5 मिमी, धमतरी में 161.2 मिमी, बिलासपुर में 205.4 मिमी, मुंगेली में 234.5 मिमी, रायगढ़ में 202.6 मिमी, जांजगीर-चांपा में 320.8 मिमी, कोरबा में 174.5 मिमी, दुर्ग में 148.2 मिमी, कबीरधाम में 164.8 मिमी, राजनांदगांव में 173.7 मिमी, बालोद में 232.3 मिमी, बेमेतरा में 147.0 मिमी, बस्तर में 167.2 मिमी, कोण्डागांव में 157.1 मिमी, कांकेर में 143.8 मिमी, नारायणपुर में 170.0 मिमी, दंतेवाड़ा में 166.9 मिमी, सुकमा में 148.0 मिमी और बीजापुर में 274.2 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई।
मानसून के दौरान भारी वर्षा और आसमानी बिजली की संभावना बनी रहती है। मौसम विज्ञान केन्द्र रायपुर और राज्य शासन के आपदा एवं प्रबंधन विभाग द्वारा भारी वर्षा एवं आसमानी बिजली (वज्रपात) के प्रभावों की जानकारी एवं इससे बचाव के उपाय जन सामान्य की जानकारी के लिए जारी किए गए हैं।
spot_img
spot_img
Manish Kashyap
Manish Kashyap
हमारा उद्देश्य देश, प्रदेश की हर ताजा खबर सत्यता के साथ सबसे तेज सबसे पहले आप तक पहुंचाना है।
Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here