12.6 C
London
Thursday, March 14, 2024

रुद्रपुर:ट्रांजिट कैंप के कृष्णा कॉलोनी में फटा सिलेंडर बच्चों समेत यह 6 लोग हुए घायल, सिलेंडर फटने से दो मंजिला इमारत के साथ 2 मकान हुए धराशाई

रुद्रपुर के थाना ट्रांजिट कैंप की कृष्णा कॉलोनी में घरेलू सिलेंडर फटने से हड़कंप मच गया धमाका इतना तेज था कि 2 मंजिला इमारत मकान सहित पड़ोसियों बने दो मकान भी धराशाई हो गए जानकारी के अनुसार आपको बताते चलें जब एक दो मंजिला मकान में खाना बनाते वक्त रसोई गैस सिलेंडर तेज धमाके के साथ फट गया। आपको बता दें की दो मंजिला धराशायी होने के साथ पीछे स्थित दो मकान पर जा गिरा। जिससे जहां दो लोग गंभीर रुप से झुलस गए। बता दें की महिला सहित चार लोग मलबे में दबकर घायल हो गए। आस पास के लोगो ने आनन फानन में घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां उनका उपचार प्रारंभ हुआ। बता दें की इस समय घायलों में कुछ की हालत नाजुक बनी हुई है। बता दें की जैसे ही घटना की सूचना पुलिस एवं जिला प्रशासन को मिली जिसके बाद राहत टीम घटनास्थल की जा ओर पड़ी। तो वहीं विधायक ने घायलों को हाल चाल जाना।

मिली जानकारी के मुताबिक आपको बता दें कि रुद्रपुर शहर के सबसे घनी आबादी वाले ट्रांजिटकैंप की राजा कॉलोनी निवासी प्रेमनारायण कश्यप के दो मंजिला मकान में उनकी लड़की नीतू कश्यप गैस सिलेडर पर खाना बना रही थी कि अचानक तेज धमाके साथ गैस सिलेंडर फट गया और मकान धराशायी होने के साथ ही पीछे की ओर गिर गया। बता दें की दो मंजिला मकान का मलवा पीछे रह रहे अमृत गुआ और मदनलाल के मकान पर जा गिरा। सिलेडर फटने से पप्पू यादव व नीतू कश्यप बुरी तरह से झुलस गई। तो वही मकान गिरने से छह वर्षीय दीपिका,उसका आठ साल का भाई दीपांकर व उसकी मां कल्पना मलबे में दबकर गंभीर रुप से घायल हो गई। इसके अलावा बता दें सोलह साल की विनीता भी घायल हो गई। जैसे ही धमाका हुआ चारो ओर चीख पुकार व अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया। बता दें की इस घटना की सूचना मिलते ही थाना ट्रांजिटकैँप प्रभारी सुदरम शर्मा पुलिस बल के साथ घटनास्थल की ओर दौड़ पडे़ और मलबे में दबे बच्चों व घायल लोगों को निजिगाडियों से जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने उपचार शुरू कर दिया। जिनमें से कुछ की हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं विधायक शिव अरोरा ने घायलों का हालचाल जाना। तो प्रशासन की टीम ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया।

इसके साथ ही आपको बता दें की थाना ट्रांजिटकैप की कृष्णा कॉलोनी में हुए सिलेडर हादसे के बाद जिला एवं पुलिस प्रशासन संतर्क हो गया। बताया जा रहा है कि दो मंजिला मकान में सिलेडर फटने से धमाका इतनी तेज था कि कुछ देर तक लोग यह नहीं समझ पाएं। कि यह धमाका गैस सिलेडर फटने के होगा। धमाके की वजह से जहां मलबे के नीचे आकर दो म कान ध्वस्त हो गए। वहीं कई मकानों में दरारे आ गई। ऐसे में ऐतिहता न के तौर पर पुलिस एवं जिला प्रशासन ने घटनास्थन के बेहद नज दीक बने मकानों के परिवारों को दूसरे स्थान पर भेजने का फरमान जारी कर दिया है।

आपको बता दें कि जैसे ही घायलों को जिला अस्पताल लाया गया। जिसकी खबर मिलते ही जिला अस्पताल के पीएमएस डॉ राकेश सिन्हा फौरन ही चप्पल में ही आपातकालीन कक्ष की ओर दौड पड़े और सभी चिकित्सकों को कॉल कर एकत्र किया और घायलों के उपचार की मॉनिटिरिग करने लगे। इसके अलावा बता दें की इस घटना के बाद प्रशासन ने घटनास्थल को पटटी लगाकर सील बंद कर दिया। साथ ही बता दें की पीएसी के एक प्लाटून लगाकर घटनास्थल को सुरक्षित कर दिया। साथ ही हिदायत दी कि घटना स्थल के पास कोई नहीं आए। पुलिस का कहना है कि धमाके से तीन नहीं बल्कि चार से पांच मकान जर्जर हालत में हो गए है। ऐसे में उन मकानों में रहने वाले लोग हादसे का शिकार नहीं हो। इसके लिए जर्जर मकानों के लोगों को हटा कर पीएसी तैनात कर दी गई है।

इसके अलावा बता दें की सुबह होने पर फायर बिग्रेड के अलावा एफएसएल की टीम भेजकर को धमाके के कारणों को जानने का प्रयास किया जाएंगा। इसके अलावा स्थानीय लोगों को घटनास्थल पर नहीं जाने की हिदायत दी गई है। प्रारंभिक जांच में हादसा गैस सिलेडर फ टने का है। बावजूद पुलिस हादसे की जांच करेगी।

spot_img
spot_img
Manish Kashyap
Manish Kashyap
हमारा उद्देश्य देश, प्रदेश की हर ताजा खबर सत्यता के साथ सबसे तेज सबसे पहले आप तक पहुंचाना है।
Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here