11.8 C
London
Saturday, March 16, 2024

केरल में नरबलि

केरल की गिनती देश के सबसे शिक्षित राज्यों में होती है। लेकिन इसके बाद ही यहां से जादू-टोना और अंधविश्वास का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे सुनकर हरकोई हैरान है। दरअसल केरल के पथानामथिट्टा जिले से नरबलि का एक मामला सामने आया है। मिली जानकारी के पथानामथिट्टा के तिरुवल्ला में रहने वाले डॉक्टर दंपती ने दो महिलाओं की बलि दे दी। पुलिस ने मामले की पुष्टि की है। दिल दहला देने वाली इस घटना में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

मिली जानकारी के अनुसार घर में पैसा आए, इसलिए तिरुवल्ला के दंपती ने दो महिलाओं की हत्या कर दी। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। कोच्चि शहर के पुलिस आयुक्त सी.एच. नागराजू ने बताया कि अंधविश्वास में दो महिलाओं को मार दिया गया और उन्हें दफना दिया गया। उन्होंने कहा, दो महिलाओं की हत्या को एक अनुष्ठान मानव बलि के हिस्से के रूप में अंजाम दिया गया था।

शिहाब के बयान पर पुलिस ने एक दंपती को हिरासत में लिया है। जिनकी पहचान डॉक्टर भगवल सिंह और उनकी पत्नी लैला के रूप हुई। दोनों पठानमथिट्टा जिले के अरनमुला के पास अपने घर में एक मसाज सेंटर चलाते हैं। इन दोनों का मानना था कि नरबलि देने से उनके घर में धन-संपत्ति आएगी। इसलिए दो महिलाओं की गला काटकर हत्या कर दी और फिर शव को खेत में दफना दिया। पुलिस ने बताया कि महिला का शव निकाला जाएगा और फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा।

आरोपी दंपति ने पूछताछ में बताया कि आर्थिक परेशानियों को दूर करने के लिए उन्होंने मानव बलि दी थी। बताया गया कि 27 सितंबर को 50 वर्षीय महिला के लापता होने की सूचना एनार्कुलम पुलिस को दी गई। कॉल डिटेल्स की जांच में पुलिस ने पाया कि महिला एक एजेंट शिहाब के संपर्क में थी। फिर 27 सितंबर को एनार्कुलम के उसी इलाके से एक और महिला भी लापता हो गई थी। वह भी शिहाब के संपर्क में थी। दोनों की भगवल सिंह और उसकी पत्नी ने लैला ने बलि दे दी।

spot_img
spot_img
Manish Kashyap
Manish Kashyap
हमारा उद्देश्य देश, प्रदेश की हर ताजा खबर सत्यता के साथ सबसे तेज सबसे पहले आप तक पहुंचाना है।
Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here